You are currently viewing Maan haani IPC Act 499-500 kya hai | मानहानि केस कब हो सकता है?

Maan haani IPC Act 499-500 kya hai | मानहानि केस कब हो सकता है?

Maan haani IPC Act 499-500 kya hai: आपने कई बार एक कहावत तो पढ़ी या सुनी होगी की लोगों को वर्षो लग जाते है अपनी इज्जत को बनाने में लेकिन उस इज्जत को गवाने में एक पल का भी समय नहीं लगता हैं। संसार में सभी लोगों के लिए उनका सम्मान, निष्ठा और मान बहुत मायने रखती हैं। भारत देश के सविधान में कुछ मौलिक अधिकार दिए गए है इन्ही में से एक है मान और प्रतिष्ठा। लेकिन यदि कोई व्यक्ति आपके मौलिक अधिकार को छीनने की कोशिश करता है तो उसे दंडित करने के लिए कुछ कानून भी बनाया गया हैं। आपने मान हानि के बारे में न्यूज पेपर और टेलीविजन पर कई बार देखा होगा। हो सकता है आप इसके बारे में जानते भी होगे। यदि नही पता है तो इस लेख में आपको सब कुछ पता चल जाएगा।

आज के इस लेख में हम आपको Maan Haani IPC ACT 499-500 क्या है? मानहानि केस कब हो सकता हैं? और कितने प्रकार के मानहानि होते हैं? इन सभी प्रश्नों की जानकारी के लिए आपको यह लेख अंत तक पढ़ना होगा।

मान हानि IPC ACT 499-500  

जैसा की आपको उपर के लेख में आपको मानहानि के बारे में तो पता चल गया होगा। यदि आपको मानहानि के बारे पता नही है तो हम आपको बता दे। कोई ऐसा बयान जिससे कोई व्यक्ति, संस्था, के खिलाफ वो बयान हो उससे अगर छवि खराब होती है तो आप उस व्यक्ति पर मानहानि के तहत केस को दर्ज कर सकते हैं। यदि किसी व्यक्ति पर आप झूठा आरोप लगाते है तो इससे उसकी मान प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचती है तो वह व्यक्ति आपके upper मानहानि का केस दर्ज कर सकता हैं। अगर कोई व्यक्ति आपको संपत्ति से वंचित करता है तो उस व्यक्ति को अपराध की श्रेणी में रखा जाता हैं।

इसे भी पढ़े – Haisiyat Praman Patra Kaise Banate Hai | हैसियत प्रमाण पत्र क्या होता है? यूपी हैसियत प्रमाण पत्र ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें?

मानहानि के कौन से महत्वपूर्ण भाग है? Maan haani IPC Act

मानहानि अपराध के तीन महत्वपूर्ण भाग निम्न है

  • लिखित या मौखिक रूप से मानहानि करना।
  • कोई भी ऐसी एक्टिविटी जो किसी व्यक्ति के बदनाम करने की मंशा से की गई हैं वो सब अपराध की श्रेणी में आता हैं।
  • मानहानि से संबंधित सामग्री को प्रकाशित करना।

IPC 499-500 क्या है?

यह धारा भारतीय दंड संहिता की धाराएं हैं। जो की 499-500 से संबंधित हैं। यदि कोई व्यक्ति इस ipc के तहत दोषी पाया जाता हैं। तो उसको इस धारा के तहत व्यक्ति को दंड दिया जाता हैं।

धारा 500 के तहत यदि कोई व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के upper मानहानि करता है तो उसको आईपीसी धारा 500 के तहत 2 वर्ष की सजा और आर्थिक जुर्माना या फिर यह दोनों हो सकती हैं। या फिर अपने आर्थिक उद्देश्य की पूर्ति करने के लिए किए गए कार्य के तहत आपके उपर मानहानि का केस दर्ज किया जा सकत हैं।

IPC 505

इस धारा के तहत किसी भी रिपोर्ट को इस तरह दिखाना जिससे भारतीय सेना, जल सेना, वायु सेना, जिससे इस सेना का कोई भी सैनिक या अधिकारी विद्रोह करने के लिए तैयार हो जाए, या ऐसी कोई सामग्री जिससे समाज में भयानक डर और भय का माहोल हो जाता हैं। और जनता सरकार के खिलाफ हो जाए तो इस स्थिति में उस व्यक्ति पर धारा 505 के तहत 2 साल की सजा, कैद या फिर दोनो हो सकती हैं।

मानहानि होने पर क्या जुर्माना होता है?

यदि किसी व्यक्ति को मानहानि के कारण किसी प्रकार कोई नुकसान होता हैं। तो वह कोर्ट में जाकर मुआवजा के लिए अपील कर सकता हैं। व्यक्ति को इस स्थिती की जानकारी आपको कोर्ट को बतानी होती हैं। इसके अलावा उसके प्रमाण भी होने चाहिए। जिसके बाद कोर्ट अपराधी से उस आर्थिक नुकसान की पूर्ति करवाई जाती हैं।

इसे भी पढ़े – जमीन की रजिस्ट्री कैसे करवाएं? प्लाट-जमीन रजिस्ट्री के नियम 2022 | Plot Registry Process

मानहानि का केस कब तक कर सकते है?

मानहानि के केस की बात करे तो जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी आप कोर्ट में इस केस को कर दे। क्योंकि आप जितना अधिक समय बर्बाद करेंगे उतने ही साथ आपके पास साक्ष्य कम होते चले जाएंगे। जिससे आपको अपराधी साबित करने में काफी समय भी लग सकता हैं।

साइबर मानहानि कानून

आज के इस डिजिटल युग में लोगों का जीवन जीने का तरीका ही बदल चुका हैं। जहां पर लगभग सभी लोग डिजिटल होते जा रहे है ऐसे में अब अपराध करने के तरीके भी बदल चुके हैं। आज के समय यदि आपको सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर या अन्य किसी साइट्स के माध्यम से आपको अपशब्द कहे तो आप उस व्यक्ति पर मानहानि का केस दर्ज कर सकते हैं। ऐसे व्यक्ति पर IPC की धारा 499 के तहत उस व्यक्ति को 3 वर्ष की कैद या जुर्माना, आदि देना होता हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के इस लेख में हमने आपको Maan Haani IPC ACT 499-500 क्या है इसके बारे में आपको सारी जानकारी दी हैं और धारा क्या होती है इसके बारे में भी सारी जानकारी दी हैं। आशा करता हु यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। यदि जानकारी अच्छी हो तो इसे दोस्तो के साथ शेयर करे।

Leave a Reply